पंजाब में बनेगी कांग्रेस की सरकार, आम आदमी पार्टी का ग्राफ गिरा

अगले साल 2017 में पंजाब के विधानसभा चुनाव होने है। सभी पार्टियां जोर शोर से इसकी तैयारियों में लग चुकी है। वर्तमान में अकाली-भाजपा सरकार जनता का विश्वास कायम रखने की भरपूर कोशिश कर रही है लेकिन उससे Anti-Incumbency का सामना करना पड़ रहा है। आम आदमी पार्टी ने अपने उम्मीदवार भी घोषित करने शुरू कर दिए है। वहीं कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष तथा अमृतसर से सांसद कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने प्रचार पूरे जोर शोर से शुरू कर दिया है और जनता से सीधा संवाद कर रहे है। अन्य दल भी मैदान में कूद चुके है। भूतपूर्व क्रिकेटर सिधु ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले है। अगर उनका दल अकेले चुनाव लड़ने का फैसला करता है तो ऐसे में मुकाबला चौतरफा हो जाएगा और कोई भी नतीजा संभव है। 

इसी बीच ट्विटर पर एक हैंडल @CMOhryShadow ने जनता की राय जानने के लिए एक पोल शुरू किया। इसमें जनता से पुछा गया कि उनके अनुसार पंजाब में सबसे ज्यादा सीट जीतकर पहले स्थान पर कौन सी पार्टी रहेगी। इसमें जनता को चार विकल्प दिए गए, अकाली-भाजपा, आम आदमी पार्टी, कांग्रेस तथा अन्य। ये पोल 2 दिन तक चला तथा इसमें एक हज़ार से ज्यादा लोगों ने हिस्सा लिया। 

पोल खत्म होने पर बेहद चौकाने वाला नतीजा सामने आया, जिसमे जनता ने अकाली-भाजपा गठबंधन को सिरे से नकार दिया। अपनी जीत का लगातार दावा करने वाली आम आदमी पार्टी को कांग्रेस ने पछाड़ दिया। 53% जनता का मानना था कि कांग्रेस पहले स्थान पर रहेगी, जिससे ये भी साबित होता नज़र आ रहा है कि कांग्रेस अपने दम पर सरकार भी बना लेगी। 


हाल ही में कई मुद्दों पर आलोचना का शिकार हुई आम आदमी पार्टी का ग्राफ काफी तेज़ी से नीचे आया है। और ठीक इसके विपरीत कैप्टेन अमरिंदर सिंह कांग्रेस को दौड़ में सबसे आगे ले निकले है। ज्ञात रहे कि चुनाव में अब केवल 3-4 महीने बचें है, ऐसे में किसी भी पार्टी की लोकप्रियता गिरना उसे दौड़ से बाहर ही कर देगा। नतीज़े जो भी हो, फिलहाल तो पंजाब में अमरिंदर ही कप्तान बनते नज़र आ रहे है। 

Advertisements